21 June 2019 Current Affairs

अंतर्राष्ट्रीय

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस: 21 जून

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2019 आंतरराष्ट्रीय योग दिवस की शुरुआत 2014 में हुई और इसे संयुक्त राष्ट्र की घोषणा के बाद वर्ष 2015 से हर साल 21 जून को विश्व योग दिवस के रूप में मनाया जा रहा है। हर साल की तरह इस बार भी इस दिवस का एक खास थीम रखा गया है। 2019 का थीम “Yoga for Climate Action” (पर्यावरण के लिए योग) है।

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2019 के उपलक्ष पर इस थीम के जरिए ये बताने की कोशिश की जा रही है कि योग का अभ्यास करने से जलवायु परिवर्तन का समाधान मिल सकता है। योग आसनों के अभ्यास से शरीर और मन के बीच एक आंतरिक संतुलन कायम होता है। यह अपने और प्रकृति के बीच सामंजस्य स्थापित करता है।

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस

  • अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस दुनियाभर के देशों में 21 जून को मनाया जाता है।
  • 21 जून को योग दिवस मनाने का विचार सर्वप्रथम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सितंबर 2014 में संयुक्त राष्ट्र महासभा में अपने एक भाषण के दौरान प्रस्तावित किया था।
  • उन्होंने इस दिन योग दिवस मनाने का प्रस्ताव रखते हुए कहा था कि उत्तरी गोलार्ध में 21 जून वर्ष का सबसे बड़ा दिन होता है।
  • 11 दिसंबर  2014 को संयुक्त राष्ट्र महासभा ने इस प्रस्ताव को स्वीकार करते हुए प्रत्येक वर्ष 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाने की घोषणा की।
  • संयुक्त राष्ट्र के इस घोषणा के बाद वर्ष 2015 से हर साल 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया जा रहा है।

 

गुथी बिल के विरोध में हजारों ने काठमांडू में प्रदर्शन किया

नेपाल में, विवादास्पद “गुथी विधेयक” के खिलाफ राजधानी काठमांडू में हजारों लोग सड़कों पर उतर आए।प्रदर्शनकारी सरकार से विवादित बिल को खत्म करने की मांग कर रहे हैं।गुथी सामाजिक-आर्थिक संस्थान/ट्रस्ट हैं, जो सार्वजनिक और निजी दोनों हैं, जो कि खेती या पट्टे पर दी गई जमीन की संपत्ति से प्राप्त होने वाली आय से अपने दायित्वों को निधि देते हैं।अपने दायित्वों के आधार पर, गुथी धार्मिक, सार्वजनिक सेवा या सामाजिक भूमिकाओं को पूरा करते हैं और एक सामान्य वंश से सदस्य शामिल कर सकते हैं।नेपाल सरकार ने गुथी अधिनियम में संशोधन करने और सार्वजनिक और निजी दोनों गुथियों पर विश्वास करने या एक शक्तिशाली आयोग के तहत सभी धार्मिक स्थलों को विनियमित करने के लिए गुथी विधेयक को लागू किया था।

 

विश्व शरणार्थी दिवस: 20 जून

विश्व शरणार्थी दिवस हर साल 20 जून को मनाया जाता है।यह दिन शरणार्थियों की कहानियों और उनके योगदान का जश्न मनाता है।इस साल की थीम है स्टेप विथ रिफ्यूजी – टेक ए स्टेप ऑन वर्ल्ड रिफ्यूजी डे।संयुक्त राष्ट्र के नवीनतम अध्ययन के अनुसार, पिछले साल के अंत में 70.8 मिलियन बच्चे महिलाओं और पुरुषों को जबरन विस्थापित किया गया था।यह संगठन के लगभग 70 साल के इतिहास में सबसे अधिक संख्या है।

 

व्यापार एवं अर्थव्यवस्था

DBS ने भारत के वृद्धि दर के अनुमान को घटाकर 6.8 प्रतिशत किया

डेवलपमेंट बैंक ऑफ सिंगापुर (DBS) ने वित्त वर्ष 2020 के लिए भारत की जीडीपी वृद्धि दर के अनुमान को घटा दिया है। बैंक ने कहा है कि वित्त वर्ष 2020 में भारत की जीडीपी ग्रोथ रेट 6.8 फीसद रहेगी।

रिपोर्ट से संबंधित मुख्य तथ्य:

  • रिपोर्ट में DBS बैंक ने कहा कि चुनौतीपूर्ण व्यापार परिदृश्य में निर्यात के मोर्चे पर दिक्कतों की वजह से भारत की जीडीपी ग्रोथ रेट के अनुमान को कम किया गया है।
  • रिपोर्ट में कहा गया कि हम उम्मीद करते हैं कि मौद्रिक नीति बहुत अधिक उठने की कोशिश करेगी, जिसे सीमित राजकोषीय लाभ दिया गया है।
  • रिपोर्ट में यह भी कहा गया कि मांग आधारित मुद्रास्फीकति का जोखिम बना हुआ है। बैंक ने कहा है कि इस साल मुद्रास्फीति 3.8 प्रतिशत के आसपास बनी रह सकती है, जो पिछले साल 3.4 प्रतिशत थी।

जीडीपी क्या है?

किसी भी देश की घरेलू सीमा के भीतर किसी एक वर्ष में उत्पादित की गई सभी अंतिम वस्तुओं और सेवाओं के बाजार मूल्यों के समग्र योग को सकल घरेलू उत्पाद या GDP कहते हैं.

GDP (कुल घरेलू उत्पाद) = उपभोग (Consumption) + कुल निवेश (Gross Investment) + सरकारी खर्च (Government Spending) + निर्यात(Exports)–आयात (Imports)

GDP = C + I + G + (X − M)

उपभोग

उपभोग में अधिकतर घरेलू खर्च शामिल होते है, जैसे किराया, भोजन, चिकित्सा खर्च इस तरह के खर्च शामिल होते है, उपभोग में नया घर शामिल नहीं किया जाता है.

कुल निवेश

यह उपभोक्ता वस्तुओं और सेवाओ पर किया जाना वाला खर्च है, यह देश की घरेलू सीमाओं के भीतर माल और सेवाओं पर सभी संस्था द्वारा किये गये कुल खर्च को मापता है.

सरकारी खर्च

इसमें सभी प्रकार के सरकारी खर्च शामिल होते है सरकारी कर्मचारियों का वेतन, सेना के लिए हथियार खरीदना और सरकार के द्वारा किया गया निवेश शामिल है.

निर्यात

निर्यात में अन्य देशों को उपभोग में तैयार किया गया माल या सेवाओं को गिना जाता है.साधारण शब्दों में वैसी वस्तुएं और सेवाएँ जो हम विदेशों में बेचते हैं.

आयात

इसमें आयात की गई वस्तुएं और सेवाएं शामिल होती है.

 

RBI ने KYC मानदंडों का पालन करने के लिए HDFC बैंक पर 1 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने निजी क्षेत्र के ऋणदाता HDFC बैंक पर ‘ग्राहक को जानो’ (KYC) और एंटी-मनी लॉन्ड्रिंग मानदंडों का पालन न करने और धोखाधड़ी की रिपोर्ट पेश करने में विफलता के लिए 1 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया।यह जुर्माना बैंकिंग विनियमन अधिनियम, 1949 की धारा 46(4)(i) के साथ धारा 47A(1)(c) के प्रावधानों के तहत निहित शक्‍तियों का प्रयोग करके लगाया गया, यह जुर्माना RBI द्वारा पूर्वकथित निर्देशों का पालन करने में बैंक की विफलता के लिए लगाया गया।

KYC

  • केवाइसी  बैंकिंग और वित्तीय क्षेत्र में प्रयुक्त होने वाला एक लोकप्रिय शब्द है।
  • अपने ग्राहक की पहचान से संबंधित जानकारी प्राप्त करने के लिए केवाइसी  विधि का प्रयोग किया जाता है।
  • इस विधि से वित्तीय संस्थाएं सूचनाओं का संग्रह करते हैं, जिसके आधार पर ग्राहक की पहचान और उसके पत्ते की सही जानकारी प्राप्त की जाती है।

 

राष्ट्रीय

MSME मंत्रालय नई दिल्ली में 28-29 जून को अंतर्राष्ट्रीय SME सम्मेलन आयोजित करेगा

सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्रालय (MSME) 28-29 जून, 2019 से नई दिल्ली में अंतर्राष्‍ट्रीय SME सम्‍मेलन 2019 के दूसरे संस्करण का आयोजन करेगा।अंतर्राष्‍ट्रीय SME सम्‍मेलन 2019 भारतीय बाजार में अवसर पर गहन व्यापार परिचर्चा और बातचीत के लिए एक मंच प्रदान करेगा।अंतर्राष्‍ट्रीय SME सम्‍मेलन उद्यम विकास के लिए सर्वोत्‍तम कार्य प्रणालियों पर चर्चा करने और इन्‍हें साझा करने, व्यापार चर्चाओं को सुविधाजनक बनाने और दुनिया भर से अभिनव, प्रगतिशील और दीर्घकालिक लघु एवं मध्यम उद्यमों द्वारा और उनके बीच व्यापारि‍क साझेदारी को प्रोत्साहित करने का सबसे महत्वपूर्ण अंतर्राष्‍ट्रीय मंच है।

 

Leave a Comment

Your email address will not be published.

error: Dont copy Content is protected by wayofjobs !!